हवाई जहाज का रंग सफेद क्यों होता है

"हवाई जहाज का रंग सफेद क्यों होता है" आर्टिकल में आपका हार्दिक स्वागत है। दोस्तो अक्सर हमने हवाई जहाज को आसमान में उड़ते जरूर देखा होगा और सायद यह भी सोच होगा कि प्रत्येक हवाई "जहाज का रंग सफेद क्यों होता है" इसलिए आज हम आपकी जिज्ञासा के आधार पर यह आर्टिकल लिख रहे हैं और यह आपके लिए एक General Knowledge सवाल भी हो सकता है इसलिए आप यह आर्टिकल शुरू से लेकर लास्ट तक पढ़ते रहिए।
"हवाई जहाज का रंग सफेद क्यों होता है"
हवाई जहाज हमे एक शहर से दूसरे शहर ही नही बल्कि हवाई जहाज से हम बहुत ही कम समय मे एक देश से दूसरे देश मे भी ले जा सकता है। दुनिया भर में प्रत्येक दिन 2 लाख से ज्यादा उढाने हवाई जहाज से होती हैं लेकिन दुनिया की कुल 5 प्रतिसत आबादी अभी तक हवाई जहाज में यात्रा कर पाई हैं। वैसे देखा जाय हवाई जहाज की यात्रा सुरक्षा के लिहाज से एक दम सुरक्षित होती है इसमे किसी भी प्रकार से हानि होने का कोई खतरा नही होता है।

वैसे देखा जाय हवाई जहाज को Auto पायलट मोड के जरिये बिना पायलेट के भी उड़ाया जा सकता है। लेकिन यात्रियों की सुरक्षा के लिहाज से हवाई जहाज के Control Room में पायलट का होना जरूरी है।


अगर हवाई जहाज ज्यादा ऊँचाई पर चला जाता हैं तो हवाई जहाज के अंदर Oxigen Mask आपके सीट के पास आ जाते हैं। इन ऑक्सीजन मास्क का use आप 15 मिनट तक कर सकते हैं।

हवाई जहाज में आपको जो भी फ़ूड खाने को मिलता है। उसमे नमक ज्यादा पाया जाता है क्योंकि जब हवाई जहाज ज्यादा ऊँचाई पर होता है तब आपकी जीभ का स्वाद बदल जाता है। हवाई जहाज का सफर एकदम आरामदायक होता है गर्मियों में हवाई जहाज पूरी तरह अंदर से ठंडा होता है और सर्दियों में अंदर से गरम होता है खाने पीने की व्यवस्था हवाई जहाज के अंदर होती है। टॉयलेट जाने की व्यवस्था भी आपको हवाई जहाज के अंदर मिल जाती है। तो चलिए हमने हवाई जहाज में होने वाली नार्मल बाते तो बहुत कर ली है अब हम आपको बताते हैं हवाई जहाज का रंग सफेद क्यों होता है।

हवाई जहाज का रंग सफेद क्यों होता है

ज्यादातर आपने देखा होगा कि हवाई जहाज का रंग सफेद होता है हवाई जहाज के सफेद रंग होने की कोई एक वजह नही है हवाई जहाज के रंग का सफेद होना इसमे बहुत से कारण है।

अगर हवाई जहाज में किसी भी प्रकार से कोई लिकीज तरेड़ क्रेक्स या फिर तेल का रिसाव है तो यह सफेद रंग में जल्दी से इंजीनियर की पकड़ में आ जाती है।

सफेद रंग गर्मी को रिफ्लेक्ट करता है इसलिए 30 हज़ार फिट की ऊँचाई पर भी हवाई जहाज ठंडा रहता है इसलिए प्लैन को गर्म होने से सफेद रंग हवाई जहाज को बचाता है।


सफेद रंग और कलर के मुकाबले वजन में कम होता है इसलिए जब भी हवाई जहाज को रंगा जाता है तो सफेद रंग से रंगा जाता है और प्लैन को जितना वजन से फ्री रखा जाय उतना सही होता है इससे हवाई जहाज के ईंधन की कुछ हद तक बचत होती है।


सफेद रंग और रंगों के मुकाबले ज्यादा पक्का होता है और यह धूप में खर्राब नही होता है। और कलर्स धूप में खर्राब हो जाते हैं। इसलिए ज्यादातर विमान लैंडिंग के बाद धूप में खड़े होते हैं। और सफेद रंग होने के कारण उनका कलर भी नही उड़ता है।

तो यह वो कारण थे जिसकी वजह से हवाई जहाज के रंग को सफेद रखा जाता है। और हमे उम्मीद है कि आपको यह जानकारी पसंद आई होगी। अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आई हो तो इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करे।


हवाई जहाज का रंग सफेद क्यों होता है हवाई जहाज का रंग सफेद क्यों होता है Reviewed by Sonu Rajput on May 08, 2018 Rating: 5

No comments:

Hame Apki Help Karne Me Khusi Hogi

Powered by Blogger.