वकील काला कोट क्यों पहनते हैं। चलिए जानते हैं

Share:

Hello Friends आज की इस आर्टिकल में हम आपको बताने वाले हैं कि वकील आखिर कार काला कोट क्यों पहनते है। बहुत से ऐसे लोग हैं जिनको इस विषय के बारे में नही पता होता है कि वकील काला कोट ही क्यों पहनते है। तो चलिए दोस्तो ज्यादा जानकारी के लिए आप इस आर्टिकल को लास्ट तक पढ़ते रहिये।
आखिर क्यों वकील काला कोट पहनते है
दोस्तो क्या आपने कभी सोचा है वकील आखिर कार काला कोट ही क्यों पहनते है। और भी तो कलर होते हैं जैसे रेड , पिंक , व्हाइट , Yellow इनको भी वकील पहन सकते हैं। लेकिन वकील काला कोट ही पहनते है। वकील काला कोट क्यों पहनते हैं क्या है इसके पीछे का राज तो चलिए हम आपको बताते हैं कि वकील एडवोकेट अपनी यूनिफार्म को ब्लैक क्यों रखते है।

काला रंग दृष्टिहीनता का प्रतीक होता है। और कहा जाता है कानून अंधा होता है और दृष्टिहीन लोग किसी के प्रति पक्षपात नही करते हैं। और इसी विस्वास के साथ वकीलों के कोट का रंग काला रखा गया है ताकि वो बिना कोई पक्षपात किय अपना केस ईमानदारी से करे। 1961 के अधिनियक के तहत वकीलों के लिए सफेद बन टाई के साथ वकीलों के लिए ये अनिवार्य कर दिया गया। ऐसा माना जाता है

इस ड्रेस कोट से वकीलों में न्याय और सम्मान जगता है। और अक्सर हमने देखा भी है वकील काले कोट के साथ सफेद सर्ट भी पहनते है। और सफेद रंग विस्वास और सच्चाई का प्रतीक होता है और काला रंग बिना पक्षपात किय विस्वास का प्रतीक होता है। और इस अधिनियक के साथ वकीलों के कोट और सफेद ड्रेस और काला कोट तय किया गया है। ताकि वो न्याय में विस्वास रखे और अपना केस लड़ते वक्त कोई पक्षपात न करे इसलिए वो काला कोट उनको अहसास दिलाता है।


दोस्तो हमे उम्मीद है आपको ये जानकारी जरूर पसंद आई होगी।  ऐसी ही जानकारी के लिए आप हमारी साइट को विजिट करते रहे। और इस जानकारी को फेसबुक और व्हाट्सअप पर जरूर शेयर करे , धन्येवाद।

No comments

Hame Apki Help Karne Me Khusi Hogi